विधानसभा निर्वाचन 2018-कलेक्टर ने ली नोडल और सहायक नोडल अधिकारियों की बैठक|

प्रकाशित तिथि : 18/09/2018

                                                                                             तैयारियों की समीक्षा
महासमुंद, 17 सितंबर 2018/आगामी विधानसभा निर्वाचन 2018 के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री हिमशिखर गुप्ता द्वारा नोडल अधिकारियों एवं सहायक नोडल अधिकारियों की नियुक्ति कर उन्हें जिम्मेदारियां सौंपी गई है। उन जिम्मेदारियों के समुचित निर्वहन के लिए तैयारियां प्रारंभ कर दी गई है। इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री हिमशिखर गुप्ता ने आज यहां कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री संतोष सिंह, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री ऋतुराज रघुवंशी विशेष रूप से उपस्थित थे।
बैठक में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी एसडीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने-अपने क्षेत्र के मतदाता सूची की संबंध में प्राप्त आवेदनों का डाटा अपडेशन प्राथमिकता के तौर पर पूरा कराएं। उन्होंने कहा कि जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों में ईव्हीएम मशीन एवं वीपी पैट का प्रदर्शन कराया जा रहा है। शासकीय कर्मचारियों को भी इसका अवलोकन कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों की बैठक विकासखंड स्तर पर भी आयोजित करना सुनिश्चित कर लें और उन्हें आदर्श आचार संहिता सहित अन्य कार्यों से अवगत कराए। इसके अलावा माईक्रो आब्जर्वर की सूची भी तैयार कर लेवें। बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि स्वीप कार्यक्रम में तेजी लाते हुए वृहत स्तर पर कार्यक्रम सुनिश्चित करावें।
नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारियों की बैठक में उन्होंने कहा कि जिले में जहां भी अवैध होर्डिंग्स है उन्हें तत्काल हटाने की कार्रवाई के लिए नगरीय निकायों के सीएमओ एवं जनपद पंचायतों के मुख्यकार्यपालन अधिकारियों को सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने कहा कि जिले में जहां से मतदान सामग्री का वितरण किया जाना है, उसके बेहतर व्यवस्वथा बना लेवे। इसके अलावा यातायात व्यवस्था के लिए अभी से वाहनों के सूची बना लेने। इसके अलावा मतदान कराने वाले कर्मचारियों प्रशिक्षण के लिए प्रशिक्षण स्थल का चयन कर वहां की बैठक व्यवस्था सुव्यवस्थित कर ले। उन्होंने अनुविभागीय अधिकारियों से कहा कि जहां पर पांच से अधिक, 10 से अधिक एवं 20 से अधिक दिव्यांग मतदाता है, उन मतदान केन्द्रों की सूची तैयार कर ले और प्रत्येक विधानसभा में ऐसे दो-दो मतदान केन्द्र चिन्हांकित कर माॅडल मतदान केन्द्र के रूप में बनाए। बैठक में अपर कलेक्टर श्री शरीफ मोहम्मद खान, संयुक्त कलेक्टर श्री शिवकुमार तिवारी एवं अनुविभागीय अधिकारीण, नोडल अधिकारी एवं सहायक नोडल अधिकारीगण उपस्थित थे।

समीक्षा